City Today News

163वीं जयंती पर याद किये गये कविगुरु रविन्द्रनाथ टैगोर

IMG 20240508 114952

आसनसोल में धूमधाम से पलीत हुआ कवि गुरु रविंद्र नाथ टैगोर की 163वीं जयंती l कविगुरु रविन्द्रनाथ टैगोर एक विश्व प्रसिद्ध व्यक्तित्व थे। वह एक कवि, दार्शनिक और कलाकार थे। उन्होंने कई कहानियाँ, उपन्यास , कविताएँ और नाटक लिखे। उनकी कविताओं और रचनाओं ने दुनिया भर के लोगों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया है। रवींद्रनाथ टैगोर द्वारा गांधी जी को “महात्मा” की उपाधि दिए जाने के बाद, गांधी जी ने टैगोर को श्रद्धांजलि देते हुए उन्हें “गुरुदेव” की उपाधि दी ।

IMG 20240508 114936

वैचारिक दृष्टि से भी टैगोर एक महान गुरु थे, क्योंकि उन्होंने हमेशा निरंकुश शिक्षा की वकालत की थी। टैगोर को 1913 में गीतांजलि के अंग्रेजी अनुवाद, सॉन्ग ऑफरिंग्स के लिए साहित्य का नोबेल पुरस्कार मिला था l आज आसनसोल के रबिन्द्र भवन स्थित कविगुरु के भव्य प्रतिमा में मालयदान कर उन्हें याद किया गया l यँहा कई संस्था द्वारा प्रभात फेरी कर उनके प्रतिमा में माल्यादान किया गया l आसनसोल बार एसोसिएशन के सदस्यों ने भी कविगुरु को माल्यादान किया और उन्हें याद किया l

IMG 20240508 114921

उपस्थित आसनसोल नगर निगम के चेयरमैन अमरनाथ चटर्जी, बार एसोसिएशन के राजेश तिवारी, बानी मंडल सहित कई बुद्धिजीवीयों ने रविन्द्रनाथ के जीवानी पर प्रकाश डाला l इस मौक़े पर यँहा रबिन्द्र संगीत, नृत्य प्रस्तुत किये गये l

City Today News

monika and rishi

Leave a comment