City Today News

भाजपा नेता जितेन्द्र तिवारी भी मानते है कि भाजपा के कम सीटे मिलने का बड़ा कारण जातिवाद तथा आरक्षण खत्म करने कि अफवाह

IMG 20240606 200939 1

लोकसभा चुनाव का परिणाम सभी के लिए चौकानेवाला था l खास कर के उत्तर प्रदेश का जंहा भाजपा को 60 से अधिक सीटों की उम्मीद थी l वंहा मात्र 33 सीट में सिमट कर रह गई बी जे पी l और उससे भी अधिक आश्चर्य इस बात पर लोगों को हुआ कि, 2019 में 5 सीट जीतनेवाली समाजवादी पार्टी ने बाजी मारते हुए 37 सीट पर कब्ज़ा जमा लिया l राजनीतिक पंडितो का कहना है कि इसका सबसे बड़ा कारण पिछड़ी जातियों का मुँह मोड़ना l विपक्षी दलों द्वारा यह अफवाह फैलाना कि भाजपा सत्ता में आ गई ना संबिधान रहेगा, ना लोकतंत्र रहेगा और आरक्षण को खत्म कर दिया जायेगा l हालांकि प्रधानमंत्री ने सफाई देने की भरसक कोशिश की कि लेकिन अफवाह का अच्छा असर दिखा l भले ही प्रधानमंत्री मोदी ने 400 पार का नारा बिरोधियो को फंसाने के लिए दिया था l लेकिन इस नारे को लेकर जब भाजपा के ही मंत्री और नेताओं ने ये कह दिया कि, “400 से अधिक सीट संबिधान में फेर बदल करने के लिए जरुरी है” हालांकि उनका कहना था कि उस शांसोधन का मतलब जो ओ बी सी की आरक्षण काट कर मुसलमानो को दिया जा रहा उसे बंद करने की जरुरत है l लेकिन बिरोधियो के प्रचार का ज्यादा असर दिखा है l फिर क्या था नतीजा सबके सामने है l वैसे भी भाजपा का कहना है कि मुस्लिम मतदाता में भाजपा का डर बिरोधियो ने पैदा किया है l हालांकि बिरोधियो द्वारा पैदा किया हुआ डर बहुत पहले से ही है l ठीक वैसे ही अब पिछड़े जातियों में भी भाजपा का डर बना दिया गया है l पिछडो की अनदेखी या पिछडो की दूरी का शायद आसनसोल के पूर्व मेयर सह भाजपा नेता जितेन्द्र ने भी महसूस किया है l

IMG 20240607 112755 1

कम से कम उनके आज के X सोशल मीडिया पर ट्वीट देख ऐसा ही लग रहा l जितेन्द्र तिवारी ने एक पिक्चर पोस्ट किया जिसमे लिखा है कि “भारत में आजादी नेताओं के हिस्से में आई और जाति दलित के हिस्से में” ऊपर कैप्शन लिखा है “आओ इस स्थिति को बदलने के लिए मिलकर इस दिशा में कार्य करें” l
उन्होंने ये पोस्ट किस बात पर लिखें है, ये तों सटीक नहीं कहा जा सकता l फिलहाल पोस्ट को देख सवाल यही उठ रहा है कि क्या पार्टी जातिवाद का शिकार तो नहीं हो रही है?

City Today News

monika and rishi

Leave a comment